विकासात्मक जीव विज्ञानग्रुप

एक निषेचित अंडा एक जटिल बहुकोशिकीय जीव को कैसेजन्म दे सकता है? विकासात्मक जीव वैज्ञानिक इस प्रश्न के उत्तर को खोज रहेहैं। एककार्यात्मकजीवबनाने के लिए विकासशील भ्रूणमें कोशिकाओं का एक समन्वित पद्धति से विभाजन, विस्थापन औरविभिन्न विकास होना आवश्यक है।

कोशिकाओं का भ्रूण विकास के दौरान व्यवहार, उनका भ्रूणविकास में योगदान और उनसे जुड़ीहुई अलग प्रक्रियाओं पर हमध्यान केंद्रित कर रहे हैं।

पशु विकास में मौलिक प्रश्नोंकेउत्तर जानने के लिए हम विविध मॉडेल जीवों और मानदंडों का उपयोग कर रहे हैं। इनमॉडेल जीवों मैं हाइड्रा,ड्रोसोफिला, झिबराफिश औरचिकभ्रूण शामिल हैं।

सेल सेल संचार, पैटर्नगठन और तनाव प्रतिक्रिया के आणविक आधार, न्यूरोमस्क्युलर जंक्शन पर सिनॅप्स गठन, विकास के दौरान औटोफेजी के नियमन, दिलका विकास और पुनर्जनन, रक्त वाहिका विकास, और स्टेम कोशिका जीव विज्ञानइन रोचक विषयों पर हम गहन जाँच कररहे हैं।

वर्तमान में हम टालेन और क्रिसपर-कैस जैसी अत्याधुनिक तकनीकों का उपयोग करके म्यूटेंट जीव पैदा करने की कोशिश कर रहे है। देश और विदेश में हम सहयोगात्मक अनुसंधान को बढ़ावा देते है।